MANAGEMENT OF ALLERGY

  MANAGEMENT OF ALLERGY



हम अॅलर्जी की प्रभावशाली चिकित्सा खोज रहे थे।

‘अलर्जी जड़मूल से समाप्त होना तो कठिन है, फिर प्रभावशाली का मापदण्ड क्या होगा?’ मैंने डाॅ. बृजबाला वसिष्ठ जी से प्रश्न किया ।

डा. बृजबाला जी का संक्षिप्त उत्तर था, ‘मेरे विचार से यदि कोई औषधि अॅलर्जी की प्रक्रिया को इस सीमा तक दुर्बल कर दे कि वह –

  • रोगी को कष्ट न दे, अथवा
  • न्यूनतम कष्ट दे, अथवा
  • औषधियों की आवश्यकता को समाप्त / न्यूनतम कर दे,

तो उसे हम अॅलर्जी में प्रभावी मान सकते हैं।’
अगला प्रश्न था – आयुर्वेद में अॅलर्जी का विवरण ढूंढेंगे कहाँ?

निम्न निर्णय हुआ, जहाँ :

  •  असात्म्य का उल्लेख हो;
  • आम / आमविष का उल्लेख हो;
  • अनूर्जता का उल्लेख हो;
  • गर विष का उल्लेख हो।


चिकित्सा

1. निदान परिवर्जनः

किन्तु यह सदा सम्भव न हो पाया। कभी हेतु का पता ही न चला। तो, कभी पता चलने के बावजूद हेतु हटा न पाए।

2. संशोधन

प्रत्येक रोगी पर वमन हो न सका। जिन्हें हुआ, उनमें भी एक समान लाभ न हुआ – किन्हीं में कम किन्हीं में अधिक; किन्हीं में अल्प-अवधि के लिए तो किन्हीं में दीर्घकालिक ।

3. संशमन:

उपरोक्त व्याधियों / अवस्थाओं में सम्भावित प्रभाव वाली औषधियों की सूची तैयार हुई –


  • हरिद्रा
  • शुण्ठी
  • पिप्पली
  • कण्टकारी
  • हरीतकी
  • आमलकी
  • शटी
  • गुडूची
  • ज़हरमोहरा
  • शिरीष
  • गैरिक
  • काली मरिच
  • स्फटिका
  • यशद
  • मुक्ताशुक्ति
  • मधुयष्टी
  • भारंगी
  • कटुकी
  • अजवायन
  • प्रवाल
  • धत्तूरा

और भी कई।

जिसे भी प्रयोग किया, अकेले किया ।

परिणाम:

निम्न 5 Medicinal herbs सबसे अधिक प्रभावशाली पाए गए –


1. शटी – सबसे अधिक प्रभावशाली
2. मधुयष्टी – शटी से कम
3. कण्टकारी – मधुयष्टी से कम
4. हरिद्रा – कण्टकारी से कम
5. शिरीष – हरिद्रा से कम।


निम्न 5 Minerals भी प्रभावशाली पाए गए –

1. ज़हरमोहरा
2. यशद
3. स्फटिका
4. मुक्ताशुक्ति / प्रवाल
5. गैरिक


अॅलर्जी चिकित्सा के लिए औषधयोग:
हम ने सब से प्रभावशाली 2 Medicinal herbs व 2 खनिज चुने –

  • शटी
  • मधुयष्टी
  • ज़हरमोहरा
  • यशद


इस औषध योग का 20 वर्षों से भी अधिक समय तक अॅलर्जी की चिकित्सा में सफल प्रयोग किया।
यह योग LERGEX Tablet नाम से प्रसिद्ध हुआ ।

मात्रा:

रोग की गम्भीरता व रोगी के बलाबल के आधार पर LERGEX मात्रा तय करते हैं।

प्राय: 2-2 गोली दिन में 3 बार से शुरुआत करके, लाभ मिलने पर धीरे-धीरे मात्रा कम (taper off) करते हैं।

Severe / acute allergy (except anaphylaxis) में 2-2 गोली मुहुर्मुहु (1-2 घंटे पर) दिन में कई (5-6) बार देते हैं।

LERGEX अकेले प्रभावशाली है। इसे अन्य औषधियों की support की आवश्यकता नहीं। केवल बताई गई मात्रा में प्रयोग करने की आवश्यकता है ।
दूसरे शब्दों में – मात्रा ही रहस्य है!

यही युक्ति है!



डाॅ.वसिष्ठ
Dr. Sunil Vasishth
M. + 91-9419205439
Email : drvasishthsunil@gmail.com
Website : www.drvasishths.com

Comments are closed.

There are no products